सनसनीखेज प्रकरण में 24 घंटे के अंदर आरोपी गिरफ्तार

नाबालिग बच्ची का अपहरण कर बलात्कार व हत्या करने वाला आरोपी को पुलिस ने 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया है।

NETVANI  ब्यूरो { उज्जैन } : थाना महाकाल अंतर्गत पाँच साल की बच्ची के अपहरण बलात्कार व
हत्या के सनसनीखेज प्रकरण में 24 घंटे के अंदर उज्जैन पुलिस द्वारा आरोपी गिरफ्तार करने में
सफलता प्राप्त की गई है । थाना महाकाल क्षेत्र अंतर्गत लालपुल – भुखी माता
स्थित ईंट भट्टे पर रहने वाले —- द्वारा थाना महाकाल में आकर अपनी पाँच वर्षीय बच्ची के अपहरण
हो जाने की सूचना दी । जिस पर से थाना में अपराध क्रं. 324/19 धारा 363 भादवि का पंजीबद्ध
कर विवेचना में लिया गया । प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए तत्काल पुलिस द्वारा बच्ची की
पतारसी के प्रयास शुरू कर दिये गये । लगातार 7-8 घंटे की सर्चिंग के बाद शव:
घटनास्थल के समीप ही क्षिप्रा नदी में तैरता हुआ मिला ।शव की बरामदगी कर उसका
पोस्टमार्टम कराया गया । शव पर चोट के निशान व प्रथमद्रष्टया बलात्कार व हत्या का प्रतीत होने से
आरोपी की पतारसी के प्रयास तेज किये गये ।
पुलिस महानिरीक्षक उज्जैन झोन श्री राकेश गुप्ता एवं पुलिस उपमहानिरीक्षक उज्जैन रेंज श्री
अनिल शर्मा के द्वारा भी घटनास्थल का निरीक्षण किया गया । दोनों वरिष्ठ अधिकारियों के द्वारा
घटना की पतारसी हेतु निर्देश दिये गये । पुलिस अधीक्षक श्री सचिन अतुलकर के द्वारा घटनास्थल
पहुँच कर अपहरण से लेकर हत्या तक के सभी पहलुओ के मद्देनजर प्रकरण की संवेदनशीलता देखते
हुए तत्काल एसआईटी का गठन किया गया । अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक झोन-2 नीरज पाण्डे के
नेतृत्व में तत्काल एसआईटी ने काम करना शुरू किया और उनके साथ नगर पुलिस अधीक्षक
महाकाल हंसराज सिंह, नगर पुलिस अधीक्षक नानाखेडा सुश्री ऋतु केवरे के अधीन अलग-अलग
टीमे बनाकर संदेहियो से पूछताछ शुरू की गई । थाना प्रभारी महाकाल अरविंद तोमर व सायबर टीम ने आसपास रहने वाले एव परिचित लोगों को संदेह के दायरे पर लेकर पूछताछ प्रारंभ की।पूछताछ के दौरान संदेही शिवा राव मराठा (जो घटनास्थल के पास ही अपने परिजन के साथ
निवास करता है ) ने प्रारंभिक पूछताछ में उससे पूछे गये प्रश्नों का संतोषजनक जवाव नही दिया ।
उसके द्वारा दिये गये जबाव तस्दीक करने पर सही नही पाये गये । अतः उसके विरूद्ध संदेह पुख्ता हो गया
एवं पुनः इंट्रोगेशन टीम द्वारा कढाई से विस्तृत पूछतात्य करने पर उसने अपना जुर्म कबूल करते हुए
सम्पूर्ण घटनाक्रम बताया । आरोपी शिवा ने बताया कि वह घटना दिनांक 6और 07/06/19 की
दरम्यानी रात करीब तीन बजे जब महाकाल मंदिर परिसर में स्थित हार फूल की दुकान में काम
करके वापस ईंट भट्टा स्थित अपने घर लौटा तो सीधे उस कमरे में पहुँचा जिसमें बच्ची सहित अन्य
लोग भी सो रहे थे । कमरे का दरवाजा अंदर से बंद होने पर उसे ईट हटाकर खोला और मृतिका को
सोयी स्थिति में उठाकर पास ही खेत में ले गया जहाँ उसके साथ दुष्कर्म कर ईंट से मारकर उसकी
हत्या कर दी एवं शव को छिपाने की नीयत से पास ही क्षिप्रा नदी में फेंक दिया । आरोपी शिवा के
इस कथन के बाद उसे गिरफ्तार किया गया । प्रकरण में अग़िम विवेचना की जा रही है ।

अपहता का शव बरामद होने के बाद प्रकरण में धारा 449, 376 (8)(8), 366, 302, 20
भादवि एवं धारा 5, 6 पाक्सों अधिनियम एवं धारा 3(2)(5) एससी एसटी एक्ट बढाई गयी ।
प्रकरण में उपसंचालक अभियोजन साकेत व्यास एवं एडीपीओ उमेश तोमर के द्वारा अग्रिम
विवेचना हेतु महत्वपूर्ण विधिक राय प्रदान की जा रही है । प्रकरण में पुलिस महानिरीक्षक उज्जैन
झोन उज्जैन राकेश गुप्ता के द्वारा आरोपी की गिरफ्तारी हेतु तीस हजार रूपये के ईनाम की
घोषणा की गई है। sp सचिन अतुलकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस मैं खुलाश किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.