वो क्या होते हैं जिनके 6 अंगुली होते है..

NETVANI: आपके पास 6 अंगुली है क्या, नहीं तो आप थोड़े कम भाग्यशाली या कम क्रिएटीव हो सकते हैं। आपको हमारी बातों पर यकीन नही हो रहा होगा ना।

तो हम आपको यूनिवर्सिटी ऑफ फ्रीबर्ग एंड इंपीरियल कॉलेज की रिसर्च बता रहे हैं। जिसमें इस बात का खुलासा हुआ है कि जिन लोगों के हाथों और पैरों में छह उंगलियां होती हैं, वे पांच उंगलियों वाले की अपेक्षा काम को ज्यादा बेहतर तरीके से अंजाम देते हैं। उनका दिमाग पांच उंगलियों वालों से ज्यादा तेज गति से काम करता है। साथ ही हर काम में बेहतर संतुलन बनाए रखता है।

शोधकर्ताओं का कहना है कि हाथ या पैर में अतिरिक्त उंगलियां होना कोई बीमारी नहीं होती। इसे विज्ञान की भाषा में पॉलिडेक्टिली कहते हैं। ऐसा 800 में से एक व्यक्ति को होता है। औसतन 500 में से एक व्यक्ति सर्जरी कर इसे निकलवा भी लेता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि भविष्य में बनाए जाने वाले रोबोट में भी छह उंगलियों का विस्तार होना चाहिए, जिससे वह और तेज गति से काम कर सके।

 यूनिवर्सिटी के बायोइंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर एटीने बर्डेट का कहना है कि ऐसा अमूमन जन्मजात होता है लेकिन किसी ने इस बात की स्टडी नहीं की कि यह कितना उपयोगी हो सकता है।

भारत में छह उंगलियों वालों के लिए एक मिथक प्रचलित है। उनको भाग्यशाली भी माना जाता है। फिल्म अभिनेता रीतिक रोशन और जानी-मानी एथलीट स्वप्ना बर्मन ने इस मिथक को सही साबित भी किया है। स्वप्ना बर्मन ने पैरों में छह उंगलियां होने के बावजूद 2018 में जकार्ता एशियन गेम्स के हेप्टाथलॉन में पहली बार भारत को गोल्ड दिलाया। उनकी पॉलिडेक्टिली तीसरे प्रकार की है, जिसमें छठी उंगली में मांस भी है और हड्डी भी। अब तक उन्होंने इसे निकलवाया नहीं है।

नेचर कम्यूनिकेशन में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, छह उंगली वाले लोगों में ज्यादातर लोगों की उंगली अंगूठे और तर्जनी के बीच होती है। इससे वे अपना काम पांच उंगलियों वाले की तुलना में ज्यादा आसानी से कर पाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.