ओलंपियन मुक्केबाज अब गुर्जर-जाट और पूर्वांचली के पंच पर टिका

दक्षिणी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में  बीजेपी के रमेश बिधूड़ी यहां से वर्तमान सांसद हैं.

दक्षिणी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र 10,935 निवासी प्रति वर्ग किलोमीटर का अनुमान है.

विनोद शर्मा , नईदिल्ली : ओलंपियन मुक्केबाज विजेंदर सिंह के आने से गुणा-गणित बदल सा गया है। कांग्रेस अब ज्यादा आक्रमक हो गई है।

वैसे  दक्षिणी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र देश का सबसे संपन्न इलाकों में से एक है। इस लोकसभा में गांवों के जातीय समीकरण वोटों का गणित तय करते हैं। इस सीट पर गुर्जर-जाट और पूर्वांचली वोटरों के हाथ में है जीत का बटन।

बीजेपी से सुषमा स्वराज और मदन लाल खुराना जैसे लोकप्रिय नेता दक्षिण दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र से सांसद रहे हैं। बीजेपी के रमेश बिधूड़ी यहां से वर्तमान सांसद हैं जिस पर बीजेपी ने इस बार भी दांव लगाया है तो कांग्रेस की ओर से मुक्केबाज विजेंदर सिंह को उतारा है। इस क्षेत्र से आम आदमी पार्टी ने राघव चड्ढा के नाम का ऐलान कर दिया है। वोट के चोट पर मुकाबला काफी गरम है।

   इस संसदीय क्षेत्र के तहत बिजवासन, पालम, महरौली, छतरपुर, देवली, अम्बेडकर नगर, संगम विहार, कालकाजी, तुगलकाबाद और बदरपुर इलाके आते हैं। बाहरी इलाकों में अनधिकृत कॉलोनियों की समस्याएं विकराल हैं तो दक्षिण दिल्ली के इलाकों में बेहतर सुविधाओं की उम्मीदें काफी व्यापक हैं।

2014 के चुनाव में दक्षिण दिल्ली सीट से बीजेपी के रमेश बिधूड़ी जीते थे। बिधूड़ी को 4,97,980 वोट मिले थे। दूसरे नंबर पर आम आदमी पार्टी के कर्नल दविंदर सहरावत रहे थे जिन्हें 3,90,980 वोट मिले थे। तीसरे नंबर पर कांग्रेस के रमेश कुमार 1,25,213 वोटों के साथ रहे थे वैसे आप के कर्नल दविंदर सहरावत अब बीजेपी में शामिल हो चुके हैं।

 

सांसद निधि का लेखा जोखा

जनवरी, 2019 तक mplads.gov.in पर मौजूद आंकड़ों के मुताबिक, बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी ने अभी तक अपने सांसद निधि से क्षेत्र के विकास के लिए 62.60 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. उन्हें सांसद निधि से अभी तक 32.17 करोड़ (ब्याज के साथ) मिले हैं. इनमें से 1.69 करोड़ रुपये अभी खर्च नहीं किए गए हैं. उन्होंने जारी किए जा चुके रुपयों में से 182.96 फीसदी खर्च किया है.

भारत निर्वाचन आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, दक्षिण दिल्ली लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में कुल मतदाताओं की संख्या 1,542,412 है. इनमें से 891,156 पुरुष और 651,256 महिलाएं हैं.

दक्षिण दिल्ली संसदीय सीट (निर्वाचन क्षेत्र संख्या 7) राजनीतिक रूप से 1966 में अस्तित्व में आई. 2011 की भारत की जनगणना के मुताबिक 2,733,752 की आबादी के साथ, दक्षिण दिल्ली संसदीय क्षेत्र दिल्ली के केंद्र शासित प्रदेश के सबसे घनी आबादी वाले क्षेत्रों में से एक है. जिसमें 10,935 निवासी प्रति वर्ग किलोमीटर का अनुमान है.

1966 से 1993 तक दक्षिण दिल्ली संसदीय क्षेत्र में आठ महानगर परिषद खंड शामिल थे. 1993 से 2008 तक, निर्वाचन क्षेत्र में 13 खंड शामिल थे.

परिसीमन आयोग के 2008 के आदेशानुसार इस संसदीय क्षेत्र में 10 विधानसभा क्षेत्र हैं. जिसमें बिजवासन, देवली, कालकाजी, पालम, अंबेडकर नगर, तुगलकाबाद, महरौली, संगम विहार, बदरपुर और छतरपुर शामिल हैं.

हौज खास में हिरण पार्क और रोज गार्डन, अशोक वन्यजीव अभयारण्य, तुगलकाबाद में असंख्य स्मारक, सरोजिनी नगर, लाजपत नगर और ग्रेटर कैलाश के प्रसिद्ध बाजार दक्षिण दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र के सबसे मशहूर और ऐतिहासिक पर्यटक स्थलों में से हैं तो मुनिरका, बेगमपुर, जिया सराय, कटवारिया सराय, बदरपुर, मंडी गांव, हौज खास विलेज, लाडो सराय, बेर सराय, सीआर पार्क और ग्रैंड ट्रंक रोड पर ऐतिहासिक बदरपुर जैसे विशाल क्षेत्रों को कवर करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.