यूपीपीएससी पेपर लीक व धांधली के खिलाफ शांतिपूर्ण आंदोलन पर दमन

Ankit Tiwari ( इलाहाबाद) : युवा मंच के संयोजक राजेश सचान ने राज्यपाल को पत्र प्रेषित कर लोक सेवा आयोग पेपर लीक मामले में योगी सरकार द्वारा भ्रष्टाचार में शामिल अधिकारियों का बचाव करने एवं भर्तियों में धांधली के खिलाफ छात्रों के शांतिपूर्ण आंदोलन पर बर्बर दमन करने का आरोप लगाया है। प्रेषित पत्र में योगी सरकार पर आरोप लगाया गया है कि भर्तियों में पेपर लीक व भारी धांधली के खिलाफ साल भर से ज्यादा अरसे से शांतिपूणर्् तरीके से आंदोलन के माध्यम से मुख्यमंत्री के संज्ञान में बार-बार लाने के बावजूद उनके द्वारा न सिर्फ नजरंदाज किया गया बल्कि धांधली में लिप्त अधिकारियों का बचाव किया गया। इसी का परिणाम है कि पूरी भर्ती प्रक्रिया के ही लम्बे असरे के लिए अधर में लटकने का गंभीर संकट पैदा हो गया है।

राज्यपाल महोदय से अपील की गई है कि पिछली सरकार के दौरान ऐसे गंभीर संवैधानिक संकट उत्पन्न होने पर उनके द्वारा यथोचित हस्तक्षेप किया जाता रहा है ऐसी स्थिति में उनसे अपेक्षा की गई है कि राज्यपाल योगी सरकार को भी अपने संवैधानिक दायित्वों के निर्वहन के लिए नसीहत देंगे और राज्यसरकार को निर्देशित कर तत्काल लोक सेवा आयोग के सचिव पर मुकदमा दर्ज कर बर्खास्त करने, 2 साल की सभी भर्तियों की हाई कोर्ट की निगरानी में सीबीआई जांच कराने व भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वाले छात्रों पर दमन की कार्यवाही पर रोक लगाने के लिए कहेंगे।

युवा मंच ने आज लोक सेवा आयोग के भ्रश्आचार के खिलाफ शांतिपूर्ण धरना पर बैठे छात्रों की गिरफ्तारी की घोर भत्र्सना करते हुए तत्काल सभी छात्रों को रिहा करने और अभी तक छात्रों पर लादे गये सभी मुकदमा वापस लेने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.