दिल्ली के पुराने बाजार के कौन होंगे सियासतदां

  • चांदनी चौक सीट पर व्यापारी वर्ग का रुख तय करेगा इस सीट का समीकरण
  • चांदनी चौक देश के सबसे पुराने बाजार, कारोबारी इतिहास और पुरानी गलियों-किलों वाली असल पहचान वाला इलाका

सुनील मिश्रा, नई दिल्ली: यूं कहें तो चांदनी चौक देश के सबसे पुराने बाजार, कारोबारी इतिहास और दिल्ली की पुरानी गलियों-किलों वाली असल पहचान वाला इलाका है। यहां वोटों का समीकरण व्यापारी वर्ग तय करता है। आदर्श नगर, शालीमार बाग, शकूर बस्ती, त्री नगर, वजीरपुर, मॉडल टाउन, सदर बाजार, चांदनी चौक, मटिया महल और बल्लीमारान इलाके इस संसदीय क्षेत्र के तहत आते हैं।

 

यहां से बीजेपी ने वर्तमान सांसद, केंद्रीय मंत्री और दिग्गज नेता डॉ. हर्षवर्धन को उतारा है। उनके मुकाबले के लिए कांग्रेस ने जय प्रकाश अग्रवाल और आम आदमी पार्टी ने पंकज गुप्ता को उतारा है।

 

दिल्ली की चांदनी चौक लोकसभा सीट पर 2014 के चुनाव में भी डॉ. हर्षवर्धन को जीत  हासिल हुई थी। उन्हें 4,37,938 वोट मिले थे। दूसरे नंबर पर आम आदमी पार्टी के आशुतोष 3,01,618 वोटों के साथ रहे थे। तीसरे नंबर पर कांग्रेस के कपिल सिब्बल रहे थे जिन्हें 1,76,206 वोट हासिल हुए था।

 

अगर यहां के इतिहास की बात करें, तो सन् 1957 में यह सीट कांग्रेस के राधा रमण के हाथ में थी. 1962 में कांग्रेस के शामनाथ, 1967 में BJS के आर. गोपाल, 1971 में कांग्रेस की सुभद्रा जोशी, 1977 में BLD के सिकंदर बख्त, 1980 में कांग्रेस के भीकू राम, 1984 व 1989 में कांग्रेस के जय प्रकाश अग्रवाल, 1991 में BJP के तारा चंद, 1996 में कांग्रेस के जय प्रकाश अग्रवाल, 1998 व 1999 में BJP के विजय गोयल, 2004 व 2009 में कांग्रेस के कपिल सिब्बल ने यहां कब्जा किया था.

इस निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत विधानसभा की 10 सीटें आती हैं, जिनमें आदर्श नगर, वजीरपुर, चांदनी चौक, शालीमार बाग, मॉडल टाउन, मटिया महल, शकूर बस्ती, सदर बाजार, बल्लीमारान व त्रिनगर शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.